क्या खरीदें चिकनकारीकुर्ती साड़ीलंहगासोने के जेवरमेकअप फुटवियर Trends

---Advertisement---

MP के इस पूर्व IPS ने रामलला को भेंट की स्वर्ण रामायण, जानिए क्या है खासियत

By Shabana Parveen

Published on:

MP के इस पूर्व IPS ने रामलला को भेंट की स्वर्ण रामायण, जानिए क्या है खासियत
---Advertisement---

मध्य प्रदेश कैडर के पूर्व आईपीएस सुब्रमण्यम लक्ष्मी नारायण ने भगवान रामलला को 4 किलों सोने से तैयार स्वर्ण रामायण भेंट की है।

पूर्व IPS अधिकारी ने अपने जीवनभर की कमाई से एक सोने से तैयार स्वर्ण रामायण भेंट की है। और चैत्र रामनवमी के पहले दिन ही पूर्व IPS सुब्रमण्यम लक्ष्मी नारायण ने अपनी पत्नी के साथ सोने से निर्मित रामायण भेंट की है।

स्वर्ण रामायण की क्या है खासियत  ?

  • प्रत्येक पृष्ठ तांबे से बना है 14×12 इंच का आकार है।
  • जिस पर रामचरितमानस के श्लोक अंकित किए गए हैं।
  • इतना ही नहीं लगभग 10,902 छद वाले इस महाकाव्य के प्रत्येक पृष्ठ पर 24 कैरेट सोने की परत भी चढ़ाई गई है।

सोने से निर्मित रामायण में कितना सोना है ?

जानकारी के मुताबिक इस रामायण में गोल्डन आकृति में लगभग 480 से 500 पृष्ठ है और यह 151 किलोग्राम तांबे और तीन से 4 किलोग्राम सोने से बना हुआ है।

किसने तैयार किया है सोने से निर्मित रामायण ?

इस रामायण का निर्माण भी चेन्नई के प्रसिद्ध बूममंडी बंगारू ज्वैलर्स ने किया है।

ये भी पढे – सुप्रीम कोर्ट ने बाबा रामदेव के दूसरे माफीनामे को खारिज करते हुए कहा कार्रवाई के लिए तैयार रहें

Shabana Parveen

मैं शबाना परवीन हूँ, पेशे से लाइफस्‍टाइल पत्रकार हूं। पत्रकारिता का मुझे कई साल का अनुभव हो चुका है। मुझे करियर, एजुकेशन, बॉलीवुड, सोसाइटी और विमेंस इंस्पिरेशन के साथ ट्रेंडिंग न्यूज पर लिखने में विशेषज्ञता प्राप्‍त है। इन विषयों गहन अध्ययन और इस विषयों के जनकरों से चर्चा कर आप तक सही जानकारी पहुंचा पाती हूं। मैं बतौर संपादक urjanchaltiger.in से जुड़ी हुई हूँ। मै अपनी टीम के साथ आपको हरपल अप-टू-डेट रहने और अपकी लाइफस्‍टाइल को स्‍टाइलिश बनाने के टिप्स बताती रहूँगी। बॉलीवुड, फैशन ब्‍यूटी, ट्रेंडिंग टॉपिक से जुड़ी ताज़ा अपडेट के लिए हमसे जुड़े रहिए। मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

----Advertisement----

Leave a Comment

Adblock Detected!

Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.