क्या खरीदें चिकनकारीकुर्ती साड़ीलंहगासोने के जेवरमेकअप फुटवियर Trends

---Advertisement---

सिंगरौली न्यूज़ : सासन पुलिस चौकी को मिली बड़ी सफलता 05 किलो अवैध गाजा के साथ आरोपी को किया गिरफतार।

By News Desk

Published on:

सिंगरौली न्यूज़ : सासन पुलिस चौकी को मिली बड़ी सफलता 05 किलो अवैध गाजा के साथ आरोपी को किया गिरफतार।

Singrauli News : बैढ़न कोतवाली थाना अंतर्गत शासन चौकी प्रभारी संदीप नामदेव को बड़ी कामयाबी मिली जब 5 किलो अवैध गांजा के साथ आरोपी को किया गिरफ्तार मुखबिर से सूचना मिली की ग्राम सिद्धिकला का दयाशंकर बैस पिता रामनरायण बैस राजश्री गुटखा के नीले रंग के कपड़े कें झोला में मादक प्रदार्थ गांजा आजाद मोढ़ से अपने घर सिद्धीकला रात करीबन ढेड़ बजे आने वाला है जिसकी घेरा बंदी कर पकड़ा जा सकता है।

सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया बाद चौकी प्रभारी सासन अपनी पुलिस टीम साथ लेकर मुखबिर के बताए स्थान पर ग्राम सिद्धीकला में संदेही के घर के पास पहुंच कर छुपाव हासिल करते हुए पुलिस बल की टीम लगाई गई । कुछ समय बाद संदेही आजाद मोड़ की तरफ से आता दिखाई दिया जो दाहिने हाथ में एक झोला लिए दिखाई दिया घेराबंदी कर हिकमत अमली से पकड़कर उस व्यक्ति से नाम पता पूछा गया तो वह अपना नाम दयाशंकर बैस पिता रामनारायण बैस उम्र 33 वर्ष निवासी ग्राम सिद्धि कला चौकी शासन थाना बैढ़न जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश का निवासी होना बताया गया ।

जो अपने साथ एक नीले रंग के राजश्री पान मसाला लेख कपड़े के झोले में 05 किलो ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा लिये पकड़ा गया अवैध मादक पदार्थ गाजा के संबंध में आरोपी दयाशंकर बैस से पूछताछ की गई तो उक्त गांजा को पिंटू बैस पिता गीता बैस से खरीदना व उसके साथ व्यापार करना बताया गया तो पुलिस द्वारा मौके पर दयाशंकर बैस को मादक प्रदार्थ गांजा के साथ पकड़ कर धारा 8/20बी,29 एनडीपीएस एक्ट की कार्यवाही बाद न्यायालय पेस किया गया ।

अपराध क्रमांक व धारा :-

618/2023 , 08/20बी,29 एन.डी.पी.एस. एक्ट

नाम पता आरोपीगण : –

  1. दयाशंकर बैस पिता रामनारायण बैस उम्र 33 वर्ष निवासी सिद्धीकला चौकी सासन थाना बैढ़न
  2. पिंटू बैस पिता गीता बैस निवासी सिद्धीकला चौकी सासन थाना बैढ़न

Leave a Comment

Adblock Detected!

Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.