क्या खरीदें चिकनकारीकुर्ती साड़ीलंहगासोने के जेवरमेकअप फुटवियर Trends

---Advertisement---

Mukhtar Ansari Death : ये यूपी में ‘क़ानून-व्यवस्था का शून्यकाल है – अखिलेश यादव

By News Desk

Published on:

Mukhtar Ansari Death : ये यूपी में ‘क़ानून-व्यवस्था का शून्यकाल है - अखिलेश यादव
---Advertisement---

Mukhtar Ansari Death : बांदा जेल में बंद पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी को गुरुवार रात दिल का दौरा पड़ा और अस्पताल पहुंचने पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। मुख्तार अंसारी ने 28 मार्च को आखिरी सांस ली। इसके बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर अहम सवाल उठाए है। उन्होंने कहा कि यूपी में यह ”कानून-व्यवस्था का शून्य काल” है। अखिलेश ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक पोस्ट में लिखा।

हर हाल में और हर स्थान पर किसी के जीवन की रक्षा करना सरकार का सबसे पहला दायित्व और कर्तव्य होता है। सरकारों पर निम्नलिखित हालातों में से किसी भी हालात में, किसी बंधक या क़ैदी की मृत्यु होना, न्यायिक प्रक्रिया से लोगों का विश्वास उठा देगा।

  • थाने में बंद रहने के दौरान
  • जेल के अंदर आपसी झगड़े में
  • जेल के अंदर बीमार होने पर
  • न्यायालय ले जाते समय
  • अस्पताल ले जाते समय
  • ⁠अस्पताल में इलाज के दौरान
  • ⁠झूठी मुठभेड़ दिखाकर
  • झूठी आत्महत्या दिखाकर
  • ⁠किसी दुर्घटना में हताहत दिखाकर

ऐसे सभी संदिग्ध मामलों में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में जाँच होनी चाहिए। सरकार न्यायिक प्रक्रिया को दरकिनार कर जिस तरह दूसरे रास्ते अपनाती है वो पूरी तरह ग़ैर क़ानूनी हैं। जो हुकूमत जिंदगी की हिफ़ाज़त न कर पाये उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं। उप्र ‘सरकारी अराजकता’ के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है। ये यूपी में ‘क़ानून-व्यवस्था का शून्यकाल है।

ये भी पढे – Hemant Soren के खिलाफ मनी लॉउंड्रिंग मामले में आज ईडी दाखिल कर सकती है चार्जशीट

ताज़ा अपडेट पढ़ने के लिए हमारे व्हाट्सएप चैनल से जुड़े

----Advertisement----

Leave a Comment